Hindi Love Shayari: Ye Ishq Ki Galli

Ishq Shayari

Ye ishq ki galli tumhari roj hume badnaam karti hain,
jara tum bhi sambhal kar aana humari gali shor bohot machati hain.
ये इश्क की गली तुम्हारी रोज हमे बदनाम करती हैं,
जरा तुम भी संभाल कर आना, हमारी गली शोर बोहोत मचाती हैं।

kahne ko to roj aati ho sapne mein, kabhi hakiqat-e-ishq bhi karke dekho​​.
कहने को तो रोज आती हो सपने में, कभी हकीकत-ए-इश्क भी करके देखो।

lakhon dilon ka hain ye shaher, jisme tum rahti ho,
ab chhod dijiye yun ghumana aur apne dil ka pata bata do.
लाखों दिलो का हैं ये शहर, जिसमे तुम रेहती हो
अब छोड दिजीए यू घुमाना अपने दिल का पता बता दो।

Tum par pyar humara yun dikhawa nahin,
ye dil tumhe nind mein bhi pukaar leta hain.

तुम पर प्यार हमारा यू दिखावा नहीं,
ये दिल तुम्हे निंद में भी पुकार लेता हैं।

Tum itani khoobasurat ho ki, dil shayar ban jaata hain.
तुम इतनी खूबसुरत हो की, दिल शायर बन जाता हैं।

Log to kuch bhi kahte hain humare pyar ko,
par unhe mere dil ka dard tumhari aankho mein nahi dikhta.
लोग तो कुछ भी केहते हैं हमारे प्यार को,
पर उन्हे मेरे दिल का दर्द तुम्हारी आँखो में नही दिखता।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *